Monday, December 18, 2017
लाइलाज नहीं रहेगी अब भूलने की बीमारी
ब्यूरो रिपोर्ट,हेल्थ डेस्क

 
वैज्ञानिक भूलने की बीमारी की दवा खोजने के बेहद करीब हैं। यह दवा दिमाग से संबंधित बीमारियों समेत भूलने की दिक्कत को दूर करने में वरदान साबित होगी। वैज्ञानिकों ने जिन दो नई दवाओं की खोज की वह इंसान के दिमाग से संबंधित समस्याओं के लिए इस्तेमाल की जा सकेगी।
 
                                                                                 वैज्ञानिकों का कहना है कि यह दवा इंसानों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित होगी क्योंकि पहले से ही कुछ बीमारियों में इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। ब्रिटेन की मेडिकल रिसर्च काउंसिल के टॉक्सीकोलॉजी विभाग की एक शोधकर्ता ने इस कामयाबी पर मीडिया से खुशी जाहिर की है।

 
              


                                                                              इस नई दवा का प्रयोग चूहों में किया गया जो सफल रहा। अगले दो-तीन सालों इसका प्रयोग इंसानों में किए जाने की संभावना जताई गई है।रिपोर्ट के अनुसार, दिमाग की कोशिकाओं में जब कोई वायरस पहुंचता है तो वह कोशिका में बनने वाले प्रोटीन को नियंत्रित करने लगता है।

                                                                                            ऐसा होने कोशिका प्रोटीन का निर्माण बंद कर देती है और कुछ समय बाद खुद को समाप्त कर लेती है। ऐसी कोशिका को फिर से जीवित करने का कोई उपाय नहीं था और इसी वजह से ब्रेन हैम्ब्रेज या अल्जाइमर जैसी बीमारी से ग्रसित हो जाता है। लेकिन नई दवा वायरस से प्रभावित कोशिका को प्रोटीन संश्लेषित करने में मदद करती है। इस दवा से दिमाग की नई कोशिकाओं के निर्माण में मदद मिलती है।

 

 

इस लेख पर अपने विचार लिखिये ।

 Yes      No
   Comments
मनीष कांडपाल.देहरादून
मरीजों के लिए अच्छी खबर...